You are currently viewing Internet Kya Hai और इंटरनेट काम कैसे करता है? सम्पूर्ण जानकारी

Internet Kya Hai और इंटरनेट काम कैसे करता है? सम्पूर्ण जानकारी

आज के समय मे हम सभी अपने देनिक जीवन मे इंटरनेट का यूज करते हैं Internet हम सभी के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है. आधुनिक जीवन काल मे इंटरनेट का उपयोग बहोत ज्यादा किया जा रहा है लेकिन बहुत से ऐसे लोग हैं जिनको अभी तक Internet kya Hai और ये केसे काम करता है इस बारे मे कुछ मालूम नही है।

इंटरनेट परस्पर जुड़े कंप्यूटरों और उपकरणो का एक वैश्विक नेटवर्क है जो डेटा के प्रसारण और आदान-प्रदान की अनुमति देता है यह एक विशाल नेटवर्क अवसंरचना है जो संचार, सूचना साझाकरण और विभिन्न सेवाओ एवं संसाधनो तक पहुंच को सक्षम बनाता है।

Internet प्रोटोकॉल के एक सेट पर आधारित है जिसे इंटरनेट प्रोटोकॉल सूट (टीसीपी/आईपी) के रुप मे जाना जाता है जो डेटा ट्रांसमिशन के लिए एक मानकीकृत ढांचा प्रदान करता है, ये प्रोटोकॉल विभिन्न उपकरणो और नेटवर्क को एक दूसरे से जुड़ने एवं संचार करने की अनुमति देते हैं।

आज बहोत से लोगों के मन मे ये सवाल आ रहे होंगे कि आखिर ये इंटरनेट होता क्या है और ये कैसे काम करता है. तो दोस्तो हमने इस आर्टिकल मे internet से जुडी पूरी जानकारी दी है जिसे पढ़ने के बाद आपको पता चल जाएगा कि Internet क्या है एवं यह काम केसे करता है।

Internet Kya Hai

इंटरनेट परस्पर जुड़े कंप्यूटरो एवं उपकरणो का एक वैश्विक Network है जो डेटा प्रसारण और विनिमय को सक्षम बनाता है, इंटरनेट एक विशाल बुनियादी ढांचा है जो दुनिया भर के लाखो नेटवर्क, सर्वर और उपकरणो को जोड़ता है जिससे उन्हे एक-दूसरे के साथ संचार करने और जानकारी साझा करने की अनुमति मिलती है।

Internet एक विकेन्द्रीकृत नेटवर्क है इसका नियंत्रण या स्वामित्व का एक भी बिंदु नही है इसके बजाय यह इंटरकनेक्टेड नेटवर्क की एक वितरित प्रणाली के माध्यम से संचालित होता है जिसका स्वामित्व और संचालन इंटरनेट सेवा प्रदाता (आईएसपी), विश्वविद्यालयो, सरकारो एवं निजी कंपनियो सहित अलग अलग संगठनो द्वारा किया जा सकता है।

दोस्तो Internet मानव जीवन की सबसे बड़ी एवं महत्वपूर्ण खोज है जिसने इस पूरे विश्व को आपस में जोड़कर रख दिया है. आप सभी को बता दे इंटरनेट दो शब्दो Inter + Network से मिलकर बना एक विशाल नेटवर्क है जिसमे Inter का मतलब एक दूसरे से जुड़ना है. और वहीं Network का मतलब जाल होता है।

इंटरनेट एक ऐसा जाल है जिसके माध्यम से इस पूरे विश्व भर के कम्पूटरो को आपस मे कंप्यूटरवर्ल्ड एवं वायरलेस के द्वारा एक दूसरे के साथ आपस में जोड़ा जाता है जिससे Data ट्रांसमिशन का आसानी से आदान प्रदान किया जा सके।

अगर हम अपने सामान्य एवं सरल शब्दो मे समझे तो Internet एक ग्लॉबल Network है जिसके माध्यम से पूरी दुनिया के Computer एवं बहोत से अन्य Electronic Device एक दूसरे के साथ आपस मे जुड़े हुए रहते है जिससे आसानी के साथ डेटा ट्रांसमिशन का कार्य किया जाता है।

इन्हे भी पढ़िए –

Computer Network क्या है? कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार कितने है, पूरी जानकारी

Computer Kya Hai? कंप्यूटर के बारे में सम्पूर्ण जानकारी जानिए हिंदी में 

इंटरनेट का इतिहास क्या है और इंटरनेट का अविष्कार किसने किया जानिए पूरी जानकारी

इंटरनेट काम कैसे करता है

Internet इस पूरी दुनिया का सबसे बडा एवं विशाल Network है जिसमे इंटरनेट Device एक दूसरे से आपस मे तांबे के तार और फाइवर Opticle केवल या फिर वायर लेस Conection के माध्यम से जुड़े हुए रहते है जो Internet सुचना Technology की सबसे आधूनिक और महत्वपूर्ण प्रणाली है।

Internet इंटरकनेक्टेड नेटवर्क एवं प्रोटोकॉल की एक जटिल प्रणाली के माध्यम से काम करता है जो डेटा के प्रसारण और आदान प्रदान की सुविधा प्रदान करता है. हमने इस टॉपिक में इंटरनेट कैसे काम करता है इस बारे में विस्तार से बताया है।

डिवाइस और नेटवर्क इन्फ्रास्ट्रक्चर :-  इंटरनेट कंप्यूटर, सर्वर, राउटर, स्विच और अन्य नेटवर्क उपकरण सहित विभिन्न उपकरणो पर निर्भर करता है, नेटवर्क इंफ्रास्ट्रक्चर बनाने के लिए ये डिवाइस भौतिक केबल जैसे फाइबर-ऑप्टिक केबल, तांबे के तार, या वायर लेस कनेक्शन के माध्यम से जुड़े हुए हैं।

इंटरनेट सेवा प्रदाता (आईएसपी) :-  Internet सेवा प्रदाता ऐसी कंपनियां या संगठन है जो उपयोगकर्ताओ को Internet कनेक्टिविटी प्रदान करते हैं. आईएसपी उन नेटवर्को का मालिक है और उनका प्रबंधन करता है जो इंटरनेट की रीढ़ हैं वे अपने नेटवर्क को हाई-स्पीड लिंक के माध्यम से एक-दूसरे से जोड़ते है जिससे Network का एक वैश्विक नेटवर्क बनता है।

आईपी एड्रेसिंग :- इंटरनेट से जुड़े प्रत्येक उपकरण को एक विशिष्ट पहचानकर्ता सौंपा जाता है जिसे आईपी एड्रेस कहा जाता है, IP ​​पते संख्यात्मक मान है जो डिवाइस को पूरे नेटवर्क मे डेटा पैकेट भेजने एवं प्राप्त करने की अनुमति देते है. IP Address के दो मुख्य प्रकार हैं, IPv4 (32-बिट) और IPv6 (128-बिट)।

डेटा ट्रांसमिशन :- जब कोई उपयोगकर्ता Internet पर डाटा भेजता है तो इसे छोटे पैकेट मे विभाजित किया जाता है, प्रत्येक पैकेट मे डेटा का एक भाग साथ ही स्रोत और गंतव्य आईपी एड्रेस होते हैं ये पैकेट अपने गंतव्य के लिये सबसे कुशल मार्ग का अनुसरण करते हुए, नेटवर्क पर स्वतंत्र रुप से यात्रा करते हैं।

रूटिंग :- राउटर वे उपकरण है जो नेटवर्क के बीच डेटा पैकेट अग्रेषित करते है वे प्रत्येक पैकेट मे गंतव्य आईपी एड्रेस की जांच करते हैं और पैकेट के लिए अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए सबसे अच्छा रास्ता निर्धारित करने के लिये यह सुनिश्चित करते हैं कि पैकेट पूरे नेटवर्क मे सही ढंग से निर्देशित है राउटर रूटिंग प्रोटोकॉल का उपयोग करके एक-दूसरे के साथ सूचनाओ का आदान-प्रदान करते है।

ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकॉल (TCP) और इंटरनेट प्रोटोकॉल (IP) :- टीसीपी/आईपी प्रोटोकॉल का सेट है जो Internet संचार की नीव बनाता है, TCP डेटा पैकेटो मे तोड़कर उन्हें क्रमांकित करके और प्राप्त अंत मे उन्हें फिर से जोड़कर डेटा की विश्वसनीय डिलीवरी सुनिश्चित करता है. आईपी इंटरनेट पर पैकेटो के पते और रुटिंग को संभालता है। Internet kya Hai

डोमेन नाम प्रणाली :- डोमेन नाम प्रणाली मानव पठनीय डोमेन नाम है. जब कोई उपयोगकर्ता वेब ब्राउज़र में एक डोमेन नाम दर्ज करता है तो DNS सिस्टम नाम को संबंधित आईपी एड्रेस पर हल करता है जिससे ब्राउज़र को वांछित वेबसाइट से जुड़ने की अनुमति मिलती है।

वेब सर्वर और ग्राहक :-  वेबसाइट और वेब सेवाए Web Server पर होस्ट की जाती हैं जब कोई उपयोगकर्ता किसी वेब पेज के लिये अनुरोध करता है तो उनका वेब ब्राउज़र क्लाइंट के रुप मे कार्य करता है और सर्वर के IP Address का उपयोग करके उपयुक्त वेब सर्वर को अनुरोध भेजता है. सर्वर अनुरोध को संसाधित करता है और अनुरोधित वेब पेज को वापस भेजता है जो उपयोगकर्ता के ब्राउज़र में प्रदर्शित होता है।

प्रोटोकॉल और मानक :- अनुकूलता और अंतरसंचालनीयता सुनिश्चित करने के लिए इंटरनेट कई प्रोटोकॉल एवं मानको पर निर्भर करता है, कुछ सबसे महत्वपूर्ण प्रोटोकॉल मे वेब ब्राउजिंग के लिए HTTP, ईमेल के लिए SMTP, फाइल ट्रांसफर के लिए FTP और कई अन्य शामिल हैं।

दोस्तो इंटरनेट कैसे काम करता है इसका एक सरलीकृत अवलोकन हमने इस टॉपिक में विस्तार पूर्वक जाना है है। वास्तव मे Internet एक अत्यधिक जटिल एवं वितरित प्रणाली है जिसमे कई परस्पर जुड़े Network और प्रोटोकॉल दुनिया भर मे निर्बाध डेटा ट्रांसमिशन और संचार को सक्षम करने के लिए एक साथ काम करते हैं।

Conclusion

दोस्तो इस लेख में दी गयी Internet Kya Hai और इंटरनेट काम कैसे करता है इसकी जानकारी आपको केसी लगी हमे कमेंट में जरुर बताए साथ ही अगर आपका इंटरनेट से जुड़ा कोई डाउट है तो उसको भी कमेंट बॉक्स मे लिख सकते हैं हम आपके doubt को दुर करने की पूरी कोशिश करेंगे जिससे आपको Internet से संबंधित जानकारी के लिये कहीं और न जाना पड़े।

इस आर्टिकल मे दी गई जानकारी यदि आपके लिए हेल्पफुल रही हो और इस पोस्ट मे बाकई मे कुछ काम की इन्फॉर्मेशन मिली हो तो इसको अपने सभी जान पहचान वालो के साथ शेयर करे ताकि वे लोग भी आर्टिकल को पढ़कर इंटरनेट क्या होता है और यह केसे काम करता है इस बारे में जान सके. धन्यवाद

Leave a Reply